Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

'पुलिस एडवोकेट और क्लाइंट्स के बीच की प्रिविलेज कम्युनिकेशन लीक कर रही है' : वकील ने बार काउंसिल में शिकायत की

Shahadat
22 April 2022 5:26 AM GMT
पुलिस एडवोकेट और क्लाइंट्स के बीच की प्रिविलेज कम्युनिकेशन लीक कर रही है : वकील ने बार काउंसिल में शिकायत की
x

अभिनेता दिलीप से जुड़े मामलों में वकीलों और उनके मुवक्किलों के बीच विशेषाधिकार प्राप्त संचार को कथित रूप से लीक करने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की मांग करते हुए वकील ने बार काउंसिल ऑफ केरल के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है।

यह उन रिपोर्टों में कहा गया कि वरिष्ठ अधिवक्ता बी. रमन पिल्लई जो ज्यादातर मामलों में अभिनेता का प्रतिनिधित्व करते हैं और दिलीप के भाई अनूप के बीच कॉल मीडिया में लीक हो गए हैं।

अपनी शिकायत में अधिवक्ता वी. सेतुनाथ ने कहा कि पुलिस अधिकारियों ने मीडिया को वकीलों और उनके मुवक्किलों के बीच विशेषाधिकार प्राप्त संचार का खुलासा करके अवैध काम किया और उसी को आगे बढ़ाने में कार्य कर रहे हैं।

शिकायत में यह भी कहा गया कि पुलिस वकीलों और उनके मुवक्किलों के बीच विशेषाधिकार प्राप्त संचार की जांच करने के लिए कदम उठा रही है।

शिकायत में आगे कहा गया,

"पुलिस ने वकील और उसके मुवक्किल के बीच विशेषाधिकार प्राप्त संचार के बारे में जांच करने के लिए गवाह से पूछताछ करने के लिए अगला कदम उठाया। कोई भी अदालत या अधिकारी भारतीय साक्ष्य अधिनियम, 1872 द्वारा संरक्षित विशेषाधिकार प्राप्त संचार के बारे में जांच नहीं कर सकते हैं।"

वकील ने तर्क दिया कि बार काउंसिल को वकीलों को पुलिस के ऐसे अवैध कृत्यों से बचाना है।

यह बताया गया कि भारतीय साक्ष्य अधिनियम क्लाइंट के अपने कानूनी सलाहकारों के साथ पेशेवर संचार और गोपनीय संचार को सुरक्षा प्रदान करता है और ऐसा ही व्यावसायिक मानकों पर बीसीआई नियम भी करता है।

इसलिए, वकील ने पुलिस अधिकारियों को उनके द्वारा एकत्र किए गए विशेषाधिकार प्राप्त संचार की जांच न करने का निर्देश देने की मांग की।

Next Story