Top
Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

सुप्रीम कोर्ट चैंबर कमेटी ने एससीबीए के सदस्यों को 300-400 चैंबर उपलब्ध कराने के लिए नए चैंबर ब्लॉक के निर्माण को मंजूरी दी

LiveLaw News Network
3 Nov 2020 11:58 AM GMT
सुप्रीम कोर्ट चैंबर कमेटी ने एससीबीए के सदस्यों को 300-400 चैंबर उपलब्ध कराने के लिए नए चैंबर ब्लॉक के निर्माण को मंजूरी दी
x

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन ने एक सर्कुलर जारी किया है जिसमें कहा गया है कि एससीबीए के सदस्यों को वर्तमान में आवंटित 243 निर्मित चैंबर के बदले अब लगभग 475-500 चैंबर मिलने की संभावना है।

सर्कुलर में कहा गया है कि जस्टिस आरएफ नरीमन, जस्टिस यूयू ललित और जस्टिस एलएन राव की अध्यक्षता में हुई चैंबर कमेटी की बैठक में न्यायाधीशों ने इस बात पर सहमति व्यक्त की है कि परिसर के पीछे खाली पड़ी 1.33 एकड़ भूमि पर एक चैंबर ब्लाॅक का निर्माण किया जाएगा ताकि 300-400 प्रदान किए जा सके। इस प्रकार, एससीबीए के पास 800-900 चैंबर हो जाएंगे।

सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि,'

'चैंबर कमेटी की पहली बैठक 6 फरवरी 2020 को हुई थी, जिसमें एससीबीए के सुझाव पर कमेटी ने कई मंजिलों पर हॉल आवंटित करने के लिए सहमति व्यक्त की थी ताकि इस समय निर्मित 234 चैंबर के अलावा इन हाॅल को क्यूबिकल्स में परिवर्तित करके सदस्यों को आवंटित जा सकें। उस बैठक में, इस उद्देश्य के लिए एक डिजाइन तैयार करने के लिए सहमति व्यक्त की गई थी। हालांकि, कोरोना के कारण लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई और उस कार्य में देरी हो गई थी।''

यह भी कहा गया है कि 5 अक्टूबर को आयोजित बैठक में, महासचिव ने कमेटी को सूचित किया था कि नए प्रगति मैदान परिसर के पीछे 1.33 एकड़ भूमि के संबंध में भूमि उपयोग परिवर्तन की अनुमति मिल गई है और वाइस प्रेसीडेंट कैलाश वासदेव के अनुरोध पर कमेटी ने तत्परता से सुझाव पर सहमति व्यक्त की और कहा कि 350-400 चैंबर प्रदान किए जा सकते हैं।

प्रेसीडेंट दुष्यंत दवे और वाइस प्रेसीडेंट कैलाश वासदेव द्वारा हस्ताक्षरित इस सर्कुलर में कहा गया है, ''बार के लिए यह बहुत ही स्वागत योग्य विकास है।''

सर्कुलर में आगे कहा गया है कि जब चैंबर समिति द्वारा इस मामले में अंतिम निर्णय ले लिया जाएगा,उसके बाद चैंबर्स के आवंटन का मुद्दा जल्द से जल्द सुलझा लिया जाएगा। कहा गया है कि '' इसके बारे में आप सभी को सूचित कर दिया जाएगा। हालांकि, हमने महसूस किया है कि सदस्यों को इस संबंध में घटित घटनाक्रम या डेवलपमेंट की जानकारी होनी चाहिए क्योंकि देरी ने हम सभी के बीच चिंता पैदा कर दी है।''

अंत में,एससीबीए ने सभी को दीपावली की शुभकामनाएं दीं।

सर्कुलर डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें



Next Story