Top
स्तंभ

अध्ययन सूच‌ी परियोजनाः कानून के छात्रों और वकीलों के लिए आवश्यक किताबें

LiveLaw News Network
13 July 2020 3:22 AM GMT
अध्ययन सूच‌ी परियोजनाः कानून के छात्रों और वकीलों के लिए आवश्यक किताबें

हमजा लकड़वाला

विचार

भारत में कानून के अधिकांश छात्रों को उनकी कानूनी शिक्षा पुरानी और अधूरी लगती है। कॉलेज और विश्वविद्यालय अक्सर मूलभूत सिद्धांतों और अवधारणाओं के सा‌थ कुछ बुनियादी प्रक्रियात्मक और ठोस कानूनों को सिखाते हैं। यह बुनियादी समझ बनाने में मदद करता है, मगर, किसी भी तरह से पर्याप्त नहीं है। ज्ञान क्षुधा की पूर्ति के लिए अधिकांश छात्र स्वाध्याय का सहारा लेते हैं, हालांकि ऐसा करने में, उन्हें यह महसूस होता है कि उन्हें नहीं पता कि उन्हें क्या पढ़ना है ओर क्या नहीं।

हालांकि कई रीडिंग लिस्ट ऑनलाइन उपलब्ध हैं, मगर ज्यादातर सामान्य और सतही हैं, और अक्सर एक गैर-भारतीय पाठक की जरूरतों को पूरा करती हैं। उदाहरण के लिए, मैंने कभी भी केजी कन्नबिरन की वेजेस ऑफ इम्प्यू‌निटी को इन ऑनलाइन लिस्टों में नहीं देखा। एक अच्छी किताब पढ़ने के लिए, आपको पहले यह जानना चाहिए कि किताब मौजूद है।

रीडिंग लिस्ट प्रोजेक्ट भारत में कानून के छात्रों और वकीलों के लिए आवश्यक पठनीय किताबें को समेटने का प्रयास है। इस सूची का उद्देश्य छात्रों और वकीलों को उन किताबों से वाकिफ करना, जिन्हें पढ़ा जाना वाकई बहुत जरूरी है। सूची में उल्लिखित किताबों को अधिवक्ताओं, पत्रकारों और प्रमुख शिक्षाविदों के बाद शामिल किया गया है।

चयन की प्र‌क्रिया

सूची के लिए किताबे चयन‌ित करने के लिए मैंने गूगल डॉक्स पर एक पेज बनाया और उनमें उन किताबों को जोड़ा, जो मुझे लगा कि महत्वपूर्ण हैं।

उदाहरण के लिए, अनुज भुवानिया की कोर्टिंग द पीपल। इसके बाद मैंने कानूनी बिरादरी के कई सदस्यों के साथ यह पेजा साझा किया। उनसे कानून के विभिन्न क्षेत्रों से पठनीय पुस्तकों का सुझाव देने का अनुरोध किया; जिसके बाद घरेलू और विदेशी लेखकों द्वारा लिख‌ि गई पुस्तकों की एक विविध और व्यापक सूची तैयार हुई।

सूची स्थायी नहीं है और आगे और चीजें जुड़ती रहेंगी। इसमें नियमित अंतराल पर नई किताबों को जोड़ा जाएगा, साथ ही रेस, संस्कृति, वित्त, आदि जैसे अध्ययन के विभिन्न क्षेत्रों में उप-सूचियों को भी जोड़ा जाएगा।

मेरा विनम्र प्रयास है कि मैं कानून के छात्रों के, और अपने लिए भ, कानून के अध्ययन को थोड़ा आसान और थोड़ा अधिक सुखद बनाऊं। मैं आशान्वित हूं कि इससे आपको सहायता मिलेगी। यदि आपके पास सूची के लिए कोई सुझाव है, तो कृपया ट्विटर पर @legallyhamza पर मुझसे साझा करें।

मैं अपना महत्वपूर्ण समय देने और सूच‌ी तैयार करने में मदद देने के लिए राधिका रॉय, विक्रम हेगड़े, अनुज भुवानिया, भावना गांधी, अपार गुप्ता, वसुंधरा सरनेत, आफरीन आलम और अरुशी सिंह का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा। मैं उन कानून छात्रों, वकीलों और उत्साही पाठकों को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे इस सूची को बनाने और साझा करने में मदद की है!

पठन सूची (यह सूची पूर्ण नहीं है, और किताबों के चयन का कोई विशेष क्रम भी नहीं है।)


लैंडमार्क जजमेंट्स पर

जिया मोदी - 10 जजमेंट्स दैड चेंज्ड इंड‌िया

जस्टिस एके गांगुली - लैंडमार्क जजमेंट्स चेंज्‍ड इंडिया

चिन्तन चंद्रचूड़ - केसेज दैड इं‌डिया फॉरगॉट

प्रशांत भूषण - द केस दैट शूक इंडिया: द वेरीड दैट लेड टू द इमरजेंसी

इंदु भान - द ड्रामेटिक डिकेड: लैंडमार्क केसेज ऑफ मॉडर्न इंडिया

टॉम डेनिंग -लैंडमार्क्स इन द लॉ

एलन हचिंसन - इज़ इटिंग पीपल रॉग? ग्रेट लीगल केसेज एंड हाऊ दे शेप्ड द वर्ल्ड

अंध्यार्ज‌िना, तेहमन आर - केसवानंद भारती केस: दी अनटोल्‍ड स्टोरी ऑफ स्ट्रगल फॉर सुप्रीमेसी बाय सुप्रीम कोर्ट एंड पार्लियामेंट


कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन

जस्टिस ओ चिन्नाप्पा रेड्डी - द कोर्ट एंड द कॉन्‍स्ट‌िट्यूशनऑफ इंडियाः समिट्स एंड शैलोज

जस्टिस वी आर कृष्णा अय्यर - कॉन्स्टीटयूशनल मिसलैनी

गौतम भाटिया - द ट्रांसफॉर्मेटिव कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन: ए रेडिकल बायोग्राफी इन नाइन एक्ट्स

अरुण के थिरुवेंगडम - कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन ऑफ इंड‌िया: ए कॉन्टेक्स्चुअल एनालिसिस (कॉन्‍स्ट‌िट्यूशनल स‌िस्टम ऑफ वर्ल्ड)

अरुण के थिरुवेंगडम, विक्रम राघवन और सुनील खिलनानी (एडि) - कम्‍प्रेटिव कॉन्‍स्ट‌िट्यूशनल‌िज्म इन साउथ एश‌िया

ग्रेनविल ऑस्टिन - वर्किंग ए डेमोक्रेटिक कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन

ग्रेनविल ऑस्टिन - इंडियन कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन: कॉर्नरस्टोन ऑफ नेशन

माधव खोसला, प्रताप भानु मेहता और सुजीत चौधरी - द ऑक्सफोर्ड हैंडबुक ऑफ इं‌डियन कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन

रोहित डे - ए पीपल्स कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन: द एवरीडे लाइफ ऑफ लॉ इन इंडियन रिपब्लिक

माधव खोसला - इं‌डियाज़ फाउंडिंग मोमेंट: द कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन ऑफ मोस्ट सरप्राजिंग डेमोक्रेसी

आकाश सिंह राठौर - अम्बेडकर्स प्रीएम्बल: ए सिक्रेट्र हिस्ट्री ऑफ कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन ऑफ इंडिया

मार्क गैलेन्टर- कॉम्‍पिटिंग इक्वेल‌िटीज़ः लॉ एंड द बैकवर्ड क्लासेज़ इन इंडिया

देसाई, अशोक एच- सुप्रीम बट नॉट इन्फैलियबलः एस्सेज़ इन ऑनर ऑफ सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंड‌िया

उपेंद्र बक्सी - सुप्रीम एंड पॉलिटिक्स

अन्‍ध्यारुजिना, तेहमतन आर, विलियम वेड- जुडिशल एक्टिविज्म एंड कॉन्‍स्ट‌िट्यूशनल डेमोक्रेसी इन इंडिया।

सिक्सटीम स्टॉर्मी डेज़: द स्टोरी ऑफ द फर्स्ट एमेंडमेंट टू द कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन ऑफ इंडिया बाय त्रिपुरदमन सिंह

पब्‍लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन

अनुज भुवानिया - कोर्टिंग द पीपूलः पब्‍लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन इन पोस्ट इमर्जेंसी इंडिया


फ्री स्पीच

गौतम भाटिया - ऑफेंड, शॉक ऑर डिस्टर्बः फ्री स्पीच अंडर द इंडियन कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन

अभिनव चंद्रचूड़ - ‌रिप्‍ब्‍लिक ऑफ रेटॉरिक: फ्री स्पीच एंड दी कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन ऑफ इंडिया

गार्टन ऐश, टिमोथी - फ्री स्पीच: टेन प्रिंसिपल फॉर कनेक्टेड वर्ल्ड

स्ट्रॉसेन, नादिन - हेटः व्हाय वी शुड रेजिस्ट इड व‌िद फ्री स्पीच, नॉट सेंशरशिप

गॉडविन, माइक - साइबर राइट्स: डिफेंडिंग फ्री स्पीच इन डिजिटल एज

कोएट्ज़ी, जे.एम. - ‌गिविंग ऑफेंस: एस्सेज़ ऑन सेंसरशिप

लौरा वेनरिब - द टैमिंग ऑफ फ्री स्पीच: अमेरिकाज सिविल लिबर्टीज कॉम्प्रोमाइजेज


प्राइवेसी

जुबॉफ, शोशना - द एज ऑफ सर्विलांस कैपटलिज्मः द फाइट फॉर ए ह्यूमन फ्यूचर एट द न्यू फ्रंटियर ऑफ पॉवर

बार्टलेट, जेमी - द पीपुल Vs टेक: हाउ द इंटरनेट इज किलिंग डेमोक्रेसी


ज्युरिसप्रुडेंस/ लीगल फिलॉसफी/ सोशल फिलॉसफी

टॉम बिंगहैम - द रूल ऑफ लॉ

आकाश सिंह, गरिमा गोस्वामी - रि‌थ‌िकिंग इंडियन ज्युरिसप्रुडेंसः एन इंट्रोडक्‍शन टू दी फिलॉसफी ऑफ लॉ

अतुल सेतलवाड -इंट्रोडक्‍शन टू दी लॉ

अमर्त्य सेन - द आइडिया ऑफ जस्टिस

माइकल सैंडल - जस्टिस: व्हाट दी राइट ‌थ‌िंग टू डू?

अभिनव चंद्रचूड़ - ड्यू प्रोसेस ऑफ लॉ

स्टीफन ब्रेयर - मेकिंग अवर डेमोक्रेसी वर्क: ए जज व्यू

स्टीफन ब्रेयर - द कोर्ट एंड द वर्ल्ड: अमेरिकन लॉ एंड द न्यू ग्लोबल रियलिटीज़

प्रीत भरारा - डूइंग जस्टिस: ए प्रॉसेक्यूटर्स थॉट्स ऑन क्राइम, पनिशमेंट, एंड द रूल ऑफ लॉ

रिचर्ड प्रोसनर - हाऊ जजेज़ थ‌िंक?

रिचर्ड प्रोसनर - लॉ एंड ‌लिटरेचर


बॉयोग्राफी/ ऑटोबॉयोग्राफी- फेमस लॉयर्स एंड जजेज़

एमसी छागला - रोजेज़ इन दिसंबर

फली एस नरीमन - ब‌िफोर मेमोरी फेड्सः एन ऑटोबॉयोग्राफी

सुसान एडेलमैन - रिबेल: ए बॉयोग्राफी ऑफ जेठमलानी

इंदु भान - लीगल ईगल्स: स्टोरीज़ ऑफ टॉप सेवन लॉयर्स

जॉर्ज एच गडबोइस - जजेज़ ऑफ सुप्रीम कोर्ट ऑफ इं‌डिया

रूथ बेडर जिन्सबर्ग - माय ओन वर्ड्स

मोतीलाल सेतलवाड - माय लाइफ- लॉ एंड अदर थिंग्स

एचआर खन्ना - निदर रोज़ेज़ नॉर थॉर्न

सोली जे सोराबजी, अरविंद पी दातार - नानी पालखीवाला: द कोर्टरूम जीनियस

नोआह फेल्डमैन - स्कॉर्पियन: द बैटल एंड ट्राएंफ्स ऑफ एफडीआर्स ग्रेट सुप्रीम कोर्ट जस्टिस

शांति भूषण - कोर्टिंग डेस्टिनी: ए मेमॉयर

श्वेता बंसल - कोर्टिंग पॉलिटिक्स

लुई निज़र - माय लाइफ इन कोर्ट

लीला सेठ - ऑन बैलेंस, एन ऑटोबॉयोग्राफी

जस्टिस एम हिदायतुल्ला - माय ओन बॉस्वेल

जस्टिस सोनिया सोटोमेयोर - माय बिल्‍व्ड वर्ल्ड

जस्टिस क्लेरेंस थॉमस - माय ग्रेंडफादर्स सन

जोन बिस्कोपिक - अमेरिकन ऑरिजीनल: द लाइफ एंड कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन ऑफ सुप्रीम कोर्ट जस्टिस एंटोनिन स्कैलिया

सैंड्रा डे ओ'कॉनर - द मैजेस्टी ऑफ द लॉ

जोन बिस्‍क्यूपिक - द चीफ: द लाइफ एंड टर्बुलेंट टाइम्स ऑफ चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स

टॉम डैनिंग, बैरन डेनिंग - लॉर्ड डैनिंग, द डिसिप्लिन ऑफ़ लॉ


रिलिज़न

अभिनव चंद्रचूड़ - रिप्‍ब्ल‌िक ऑफ‌ रिलिज़न: द राइज़ एंड फॉल ऑफ को‌लिनियल सेक्यूलरिज्‍़म इन इंडिया

रोनोजॉय सेन - आर्टिकल्स ऑफ फेथ: रिलीज़न, सेक्यूलर‌िज्‍़म, एंड द इं‌डियन सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया।

गैरी जे जैकबसॉन - द व्हील ऑफ़ लॉ: इं‌डिया सेक्यूलरिज़्म इन कम्प्रेटिव कॉन्‍स्ट‌िट्यूशनल‌ कॉन्टेक्स्ट


सोशल इश्यूज

पालागुम्मी साईनाथ - एवरीबॉडी लव्ज़ ए गुड ड्रॉट

के जी कन्नबीरन - दि वेज ऑफ इम्प्यूनिटी: पावर, जस्टिस एंड ह्यूमन राइट्स

मार्क गैलेन्टर- लॉ एंड सोसायटी इन मॉडर्न इं‌डिया

जेम्स सी स्कॉट - सीइंग लाइक ए स्टेटः हाऊ सर्टेन स्‍किम्स टू इम्प्रूव द ह्यूमन कंडिशन हैव फैल्‍ड

जोसी जोसेफ - अ फीस्ट ऑफर्स वल्‍चर्स: द हिडन बिजनेस ऑफ डेमोक्रेसी इन इंडिया

मार्क गैलेन्टर - कॉम्‍पिटिंग इक्वेलिट‌ीज़: लॉ एंड द बैकवर्ड क्लासेज़ इन ‌इंडिया


फेमिनिज्‍़म/ व‌िमेन्स राइट्स

कविराज सिंह - लॉ एंड हर: ए हैंडबुक ऑन व‌िमेन लॉज़ इन इंडिया

निवेदिता मेनन - सीइंग लाइक फेमिनिस्ट

लिंडा हिरामन- सिस्टर्स इन लॉ: हाऊ सैंड्रा डे ओ'कॉनर एंड रुथ बेडर गिन्सबर्ग वेंट टू द सुप्रीम कोर्ट एंड चेंज्ड द वर्ल्ड

प्रतिक्षा बक्षी - पब्‍ल‌िक सिक्रेट ऑफ लॉः रेप ट्रायल्स इन इंडिया

फ्लाविया एग्नेस, मोनमयी बसु, और सुधीर चंद्रा - विमेन एंड लॉ इन इं‌डिया

सिमोन डी बाउवार - द सेकेंड सेक्स

जुडिथ बटलर - जेंडर ट्रबल

स‌िन्‍जिया अरुज्जा, नैन्सी फ्रेज़र, और टिथी भट्टाचार्य - फेमिनिज्‍म फॉर दी 99%: ए मैनिफेस्टो


कानूनी अध्ययन

निकोलस जे मैकब्राइड - लेटर्स टू अ लॉ स्टूडेंट

‌‌

हिस्ट्री

अभिनव चंद्रचूड़ - सुप्रीम व्‍हिस्पर्स: कनवर्सेशन विद जजेज़ ऑप दी सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया 1980-89

ऑर्नित शनी - हाऊ इंडिया बिकम डेमोक्रेटिकः सिटिजनश‌िप एंड द मे‌किंग ऑफ द यूनिवर्सल फ्रेंचाइजी

तरंगिनी श्रीरामन - इन पर्सूट ऑफ़ प्रूफ: ए हिस्ट्री ऑफ़ आइडेंटिफिकेशन डॉक्युमेंट्स इन इंडिया

बिपिन चंद्र - इंडियाज़ स्ट्रगल फॉर इंडिपेंडेंस

बिपिन चंद्र - इं‌डिया स‌िंस इंडिपेंडेंस

जवाहरलाल नेहरू - डिस्‍कवरी ऑफ इंडिया

जवाहरलाल नेहरू - ‌ग्‍ल‌िम्प्‍सेज़ ऑफ वर्ल्ड हिस्ट्री

एच एम सेरवई - पार्टिशन ऑफ इंडियाः लिजेंड एंड रियल‌िटी

रामचंद्र गुहा - इंड‌िया आफ्टर गांधी

अमर्त्य सेन - द आर्गुमेंटेटिव इंडियन: राइटिंग ऑन इंडियन हिस्ट्री, कल्चर एंड आइडेंटिटी

रोमिला थापर - द पास्ट बिफोर अस

शशि थरूर- इनग्लोरियस इम्पायर

विलियम डेलरिम्पल - द एनार्की

माइकल एच रोफ़र - द लॉ बुक:

फ्रॉम हम्मुराबी टू इंटरनेशपल क्रिमिनल कोर्ट, 250 माइल्‍सस्टोन इन द हिस्ट्री ऑफ लॉ

अरुणा रॉय - द आरटीआई स्टोरी: पावर टू द पीपल

अलेक्जेंडर एम बिकेल - द ल‌िस्ट डेंजरस ब्रांचः द सुप्रीम कोर्ट एट द बार ऑफ पॉलिटिक्स

जॉर्ज हेरॉल्ड गडबोइस - सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया: द बिगिनिंग

विल डुरांट - द स्टोरी ऑफ फिलॉसफी


कानून / अनुसंधान/ड्राफ्ट लेखन/ तर्क

जस्टिस एंटोनिन स्कैलिया, बीए गार्नर - मेकिंग योर केस: द आर्ट ऑफ पर्सुएडिंग जज

जस्टिस एंटोनिन स्कैलिया, बी ए गार्नर - रीडिंग लॉ: द इंटरप्रिटेशन ऑफ़ लीगल टेक्स्टस

फिलिप मेयर - स्टोरीटेलिंग फॉर लॉयर

जोएल पी ट्रैक्टमैन - द टूल्स ऑफ़ आर्ग्यूमेंट: हाउ द बेस्ट लॉयर्स थिंक, ऑर्ग्यू एंड विन

ग्यूबरमैन, रॉस - प्वाइंट मेड: हाऊ टू राइट लाइक नेशंस टॉप एडवोकेट्स

टूमॉरोज़ लॉयरः एन इंट्रोडक्‍शन टू योर फ्यूचर बाय रिचर्ड सुस्‍किंड


क्रिमिनल लॉ

अविरूक सेन - आरुषि

पिंकी आनंद - ट्रायल्स ऑफ ट्रुथ: इंडियाज लैंडमार्क क्रिमिनल केसेज़

चित्रांशु सिन्हा - द ग्रेट रेप्रेशन: द स्टोरी ऑफ़ सेडिशन इन इंडिया

एर्ल स्टेनली गार्डनर - द कोर्ट ऑफ लास्ट रिज़ॉर्ट

क्लेरेंस डैरो - एटॉर्नी फॉर दी डैम्‍ड


फिक्‍शन

हार्पर ली - टू किल ए मॉकिंगबर्ड

जॉन ग्रिशम - द फर्म

जॉर्ज ऑरवेल - 1984

जे डी सालिंगर - द कैचर इन द राई

प्रयाग अकबर - लीला

जेरेमी ब्लाचमैन - एननीमस वकील

ट्रूमैन केपोट, कोल्ड ब्लड में

स्कॉट टर्रो - द कोल्‍ड ब्‍लड

फ्रांज काफका- द ट्रायल

जॉन ग्रिशम - ए टाइम टू किल

स्कॉट टर्रो - प्र‌िज्यूम्ड ट्रूथ

फ्योदोर दोस्तोयेव्स्की - क्राइम एंड पनिशमेंट


कैजुअल रिड्स

द सीक्रेट बैरिस्टर - द सीक्रेट बैरिस्टर: स्टोरी ऑफ द लॉ एंड हाउ इट्स ब्रोकन

रंजीव सी दुबे - लीगल कॉन्‍फिडेंशियल: एडवेंचर्स ऑफ एन इंडियन लॉयर्स

एर्ल स्टेनली गार्डनर - पेरी मेसन सीरीज़

पत्रकारों / गैर-कानूनी पेशेवरों की किताबें

सुनेत्रा चौधरी - ब्‍लैक वारंट: कन्फेंशंस ऑफ ए तिहाड़ जेलर सुनेत्रा चौधरी- बिहाइंड बार्स: प्रिज़न टेल्स ऑफ़ इंडियाज मोस्ट फेमस

अरुण शौरी - अनीता गेट्स बेलः व्हाट आर आवर्स कोर्ट डूइंग? व्हाट शुड वी डू एबाउट देम?

अरुण शौरी - कोर्ट्स एंड देयर जजमेंट्सः प्रीमाइसेज़, प्रीरिक्वीसिट्स, कॉन्स‌िक्वेंन्‍सेज़

आनंद तेलतुम्बडे और सूरज येंगड़े - द रेडिकल इन अंबेडकर: क्रिटिकल रिफ्लेक्शंस

अरुण शौरी - फ़ॉलिंग ओवर बैकवर्ड


न्यायाधीशों, वकीलों और प्रख्यात न्यायविदों की अन्य पुस्तकें

जस्टिस मार्कंडेय काटजू - व्हीदर इंडियन जुडिशरी

जस्टिस मार्कंडेय काटजू - द शेप ऑफ़ थिंग्स टू कम: एन इम्पैसन्ड व्यू

फली एस नरीमन - इंडियाज़ लीगल सिस्टमः कैन इट बी सेव्ड?

फली एस नरीमन - गॉड सेव्ड द ऑनरेबल सुप्रीम कोर्ट

फली एस नरीमन - द स्टेट ऑफ द नेशन: इन कॉनटेक्स्ट ऑफ इंडियाज़ कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन

नानी पालखीवाला - वी, द नेशनः द लॉस्ट डिकेड्स

नानी पालखीवाला - वी, द पीपलः इं‌डिया, दी लॉर्जेस्ट डेमोक्रेसी

अभिषेक सिंघवी - फ्रॉम द ट्रेंचेंस:

इंडियाज़ टॉप लॉयर्स ऑन हिज़ मोस्ट इम्पॉर्टेंट केसेज़

नानी पालखीवाला - ऑर कॉन्‍स्ट‌िट्यूशन: डिफेस्ड एंड ‌डिफाइल्ड

(हमजा लकड़ावाला ने मास मीडिया एंड जर्नलिज्म ग्रेजूएट हैं। उन्होंने एक प्रमुख मीडिया समूह के लिए कंटेट राइटर और मीडिया कंसल्टेंट के रूप में एक काम किया है, और वर्तमान में स्वतंत्र लेखक और शोधकर्ता के रूप में काम करते हैं। हमजा की कानून, इतिहास, उद्यमिता और शिक्षा में गहरी रुचि है। वह मुंबई स्‍थति किशनचंद चेलाराम लॉ कॉलेज से एलएलबी कर रहे हैं।उन्हें ट्विटर पर @legallyhamza पर फॉलो किया जा सकता है।)

Next Story