Top
Begin typing your search above and press return to search.
ताजा खबरें

गुरमीत राम रहीम के खिलाफ दोनों साध्वी भी पहुंची हाईकोर्ट, सज़ा बढाकर उम्रकैद करने की अपील

LiveLaw News Network
4 Oct 2017 10:43 AM GMT
गुरमीत राम रहीम के खिलाफ दोनों साध्वी भी पहुंची हाईकोर्ट, सज़ा बढाकर उम्रकैद करने की अपील
x

रेप के दो मामलों  में 20 साल की सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के खिलाफ दोनों पीड़िता साध्वी भी पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट  पहुंच गई हैं। बुधवार को दाखिल इस याचिका में अपील की गई है कि राम रहीम की 20 साल की सजा को उम्रकैद में बदला जाए। दोनों ने सीबीआई कोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए राम रहीम के अपराध को ध्यान में रखते हुए सजा बढ़ाए जाने की बात कही है। इससे पहले दो साध्वियों से रेप के मामले में 20 साल की सज़ा काट रहे डेरा सच्चा सौदा के मुखिया गुरमीत राम रहीम भी पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट पहुंचे थे। गुरमीत राम रहीम ने सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के दोषी करार देकर 20 साल की सज़ा के फैसले को चुनौती दी है।

गुरमीत राम रहीम फिलहाल रोहतक की जेल में बंद है। हाईकोर्ट में दाखिल अपनी याचिका में गुरमीत ने कहा है कि स्पेशल कोर्ट का फैसला सही नहीं है। कोर्ट ने उसकी इस दलील को नहीं माना कि 1990 में ही वो अपनी पौरुष शक्ति खो बैठे थे। जबकि इस तथ्य को लेकर जांच एजेंसी ने उनका पोटेंसी टेस्ट यानी पौरुष क्षमता का मेडिकल परीक्षण भी नहीं कराया जिससे साबित होता कि वो रेप करने के काबिल भी है या नहीं।

याचिका में कहा गया है कि ट्रायल कोर्ट ने उसकी दलील को ये कहकर नकार दिया कि वो पहले ही दो बेटियों के पिता हैं। जबकि ये बेटियां 1990 से पहले ही पैदा हुई थीं। याचिका में कुछ और भी आधार दिए गए हैं।गौरतलब है कि 28 अगस्त को 2002 में दो महिलाओं के साथ रेप के मामले में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने डेरा सच्चा सौदा के चीफ गुरमीत राम रहीम को दस -दस साल की सजा सुनाई थी।ये दोनों सजा एक के बाद एक चलेंगी। दरअसल सीबीआई की कोर्ट ने 25 अगस्त को गुरमीत राम रहीम को 2002 में आश्रम में दो महिलाओं से रेप IPC 376 और जान से मारने की धमकी यानी IPC 506 और 509 के तहत मामले में दोषी करार दिया था।  पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने सजा के ऐलान करने के लिए रोहतक की सुनारिया जेल में ही सीबीआई कोर्ट लगाने के आदेश दिए थे। हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को पंचकूला में हुई हिंसा पर कडी फटकार लगाते हुए रोहतक जेल में कडी सुरक्षा करने के आदेश भी जारी किए थे और इसके बाद सुनारिया जेल को किले में तब्दील कर दिया गया था। गौरतलब है कि गुरमीत राम रहीम को शुक्रवार को दोषी करार देने के बाद राज्य भर में हिंसा भडक गई थी और इसी को देखते हुए उन्हें हेलीकॉप्टर के जरिए पंचकूला से रोहतक जेल ले जाया गया था। इस दौरान पंचकूला में करीब 29 लोगों की मौत हो गई थी।

Next Story