Top
Begin typing your search above and press return to search.
ताजा खबरें

श्री श्री को कार में ले जाने पर बार एसोसिएशन ने गुवहाटी हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस से आग्रह किया, दूर रहें न्यायिक अफसर

LiveLaw News Network
12 Sep 2017 11:35 AM GMT
श्री श्री को कार में ले जाने पर बार एसोसिएशन ने गुवहाटी हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस से आग्रह किया, दूर रहें न्यायिक अफसर
x

श्री श्री रविशंकर को अपनी कार में ले जाने के मुद्दे पर गुवहाटी हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस और अन्य जजों को एेसे विवादों से बचने और चौकन्ने रहने का आग्रह किया है।

दरअसल गुवहाटी हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस अजीत सिंह पांच सितंबर को आर्ट ऑफ लिविंग के फाउंडर और धार्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर को अपनी कार को खुद चलाते हुए एयरपोर्ट से अपने सरकारी घर ले जाने पर विवादों में हैं। श्री श्री रविशंकर उत्तर पूर्वी स्थानीय लोगों के सम्मेलन में हिस्सा लेने गए थे।

हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने आम सभा में पास प्रस्ताव में चीफ जस्टिस से आग्रह किया है कि भविष्य में वो इस संबंध में चौकन्ने रहें और सभी न्यायिक अफसरों को एेसे विवादों से बचना चाहिए। दरअसल बार एसोसिएशन ने 11 सितंबर को असाधारण आमसभा बुलाई थी क्योंकि ये मामला अखबारों और इलेक्ट्रानिक मीडिया से सुर्खियों में आ गया था।

बार अध्यक्ष कृष्णकांत महंता के हस्ताक्षर वाली सूचना में कहा गया है कि इस दौरान ये मुद्दा भी उठाया गया कि तस्वीरों में चीफ जस्टिस के साथ कुछ प्रतिबंधित संगठनों के प्रतिनिधि भी दिखाई दिए जिन्हें उनके सरकारी आवास पर श्री श्री रविशंकर से मिलने की इजाजत भी दी गई। बार ने इस मौके पर प्रतिबंधित संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ चीफ जस्टिस द्वारा श्री श्री रविशंकर से मिलने और अपनी कार को खुद चलाते हुए सरकारी आवास तक लाने और उन लोगों को श्री श्री रविशंकर से मिलने देने का मौका देने पर नाराजगी भी व्यक्त की है।

सूचना में कहा गया है कि बार ने सर्वसम्मति से ये निर्णय लिया कि जनता में न्यायपालिका पर भरोसे को बनाए रखने के लिए न्यायिक अफसरों को एेसे मामलों से बचना चाहिए। इसलिए चीफ जस्टिस से आग्रह किया है कि वो भविष्य में चौकन्ने रहें।

बार एसोसिएशन ने ये भी साफ किया है कि इस बारे में चीफ जस्टिस को लेकर जो भी जानकारी मिली है वो अखबारों और इलेक्ट्रानिक मीडिया के जरिए मिली है।

Next Story