Top
Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

बीजेपी नेता स्वामी ने आईपीएल के प्रसारण अधिकार ई ऑक्शन के लिए बांटे जाने के लिए लगाई गुहार [याचिका पढें]

LiveLaw News Network
12 July 2017 10:46 AM GMT
बीजेपी नेता स्वामी ने आईपीएल के प्रसारण अधिकार ई ऑक्शन के लिए बांटे जाने के लिए लगाई गुहार [याचिका पढें]
x
आईपीएल क्रिकेट मैच में प्रसारण अधिकार में पारदर्शिता रहे इसको लेकर बीजेपी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कि आईपीएल मैच के लिए प्रसारण अधिकार का बंटवारा ई ऑक्शन के जरिये होना चाहिए।


स्वामी ने 25 हजार से 30 हजार करोड़ के राइट्स के बंटवारे पर सवाल उठाया और कहा कि बीसीसीआई आईपीएल के लिए जिस तरह से टेलिकॉस्ट राइट्स बांट रही है वह सवालों के घेरे में है। इस मामले में चीफ जस्टिस जेएस खेहर की अगुवाई वाली बेंच के सामने मामले को उठाया गया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह मामले में अगले हफ्ते सुनवाई करेगी। ऑक्शन 17 जुलाई को होना है।


स्वामी ने कहा कि जरूरत है कि बिना भेदभाव के ट्रांसपैरेंट तरीके से राइट्स बांटे जाएं। इस मामले में इंटरनैशनल प्रैक्टिस का अनुकरण किया जाए। मीडिया राइट्स इस तरह से बांटे जाएं कि वह ट्रांसपैरेंट हो और देश का व्यापक हितों की रक्षा हो सके।


स्वामी का कहना था कि इस मामले में चूंकि बहुत बड़ी राशि 25 से 30 हजार करोड़ लगा हुआ है ऐस में कमर्शल इंट्रेस्ट भी है। ऐसे में इस बात की अनिवार्यता होनी चाहिए कि ऑक्शन प्रोसेस पूरी तरह से ट्रांसपैरेट हो और मौजूदा प्रैक्टिस को नकारा जाए।


इसके लिए याचिकाकर्ता स्वामी ने सुप्रीम कोर्ट के तमाम जजमेंट का हवाला दिया जिसमें कहा गया है कि  किस तरह से बीसीसीआई में अनियमितता हुई है। बीसीसीआई ने तमाम अनियमितताएं और हेराफेरी से काम किया है। सुप्रीम कोर्ट ने इसे रोकने के लिए मुद्गल कमिटी बनाई। इसके बाद जो रिपोर्ट आई उस पर लोढ़ा कमिटी बनाई गई। 22 जनवरी 2015 को लोढ़ा कमिटी बनाई गई। फिलहाल सुप्रीम कोर्ट की मॉनिटरिंग में एडमिनिस्ट्रेटर बनाया गया है और पूर्व सीएजी विनोद राय उसकी अगुवाई कर रहे हैं। और फिलहाल लोढ़ा कमिटी की सिफारिशें लागू कराई जा रही है।

Next Story