Top
Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

COVID-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई पर मद्रास हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने कहा, हम हाथ पर हाथ धर कर नहीं बैठ सकते

LiveLaw News Network
6 April 2020 3:15 AM GMT
COVID-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई पर मद्रास हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने कहा, हम हाथ पर हाथ धर कर नहीं बैठ सकते
x

मद्रास हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एपी साही ने कहा कि COVID-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई में हम हाथ पर हाथ धर कर नहीं बैठे रह सकते।

क़ानूनी पेशे से जुड़े लोगों को भेजे एक संदेश में सीजेआई ने लिखा

"इधर उधर निकालकर हम अपने विरोधी कोरोना को ही मज़बूत कर रहे हैं। अपने दुश्मन को जगह दो, संरक्षण दो और और फिर उसको परास्त करने के लिए छद्म का सहारा लेना जीवित रहें यह सुनिश्चित रहने और इस विपदा को रोकने के लिए बेहद ज़रूरी है…अपनी दृढ़ता से हमने इसके ख़िलाफ़ मज़बूत प्रतिरक्षा तैयार कर ली है पर हम चुप चाप बैठ जाने का जोखिम नहीं ले सकते।"

इस पत्र का शीर्षक है "यात्रा शुरू हुई है" (Journey has begun) और उन्होंने इसमें कहा है, "कोरोना ने हमें मज़बूती से चारों ओर से घेर लिया है और विश्व भर में इसके बढ़ते संक्रमण से हम घिर गए हैं और दुनिया के कई विकसित देश इसका ख़ामियाज़ा भुगत रहे हैं क्योंकि उन्होंने इसे कमतर आंका, चुपचाप बैठे रहे और यहाँ तक कि संसाधन का अभाव भी रहा।"

उन्होंने कहा,

"फ़्रंट पर थोड़ी सी चूक भी सब किए कराए पर पानी फेर सकता है। लगातार सतर्कता और नियमित रूप से एहतियात बरतने से हम इस ख़राब मौसम से बाहर आ सकते हैं…संयम का यह दर्द और सुख हमारे अपने फ़ायदे के लिए है। दुर्भाग्य से, स्थिति ने हमारे लिए ज़्यादा विकल्प नहीं छोड़ा है।"

"हम अपने प्रयासों की सीमा की ओर बढ़ रहे हैं। इस समय हमें अपने पथ से विपथ नहीं होना है…यह परीक्षा की घड़ी है और कुछ संभावित ग़लतियों पर समग्र प्रयास से हम परीक्षा की इस घड़ी को अपने लिए सफलता में बदल सकते हैं। ज़रा कल्पना कीजिए, आपको पुरस्कार के रूप में जीवन मिलेगा। खुद पर विजय से बड़ी कोई जीत नहीं है।"



Next Story