Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के दो अतिरिक्त न्यायाधीशों को स्थायी करने की सिफारिश की

Sharafat
24 Nov 2022 4:13 PM GMT
सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के दो अतिरिक्त न्यायाधीशों को स्थायी करने की सिफारिश की
x

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने 23 नवंबर को आयोजित अपनी बैठक में छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में स्थायी न्यायाधीश के रूप में निम्नलिखित अतिरिक्त न्यायाधीशों की नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दी।

1. जस्टिस नरेंद्र कुमार व्यास;

2. जस्टिस नरेश कुमार चंद्रवंशी

जस्टिस व्यास ने पं. रविशंकर विश्वविद्यालय, रायपुर में वर्ष 1995 में कानून में डिग्री प्राप्त की और रायपुर, रायगढ़ और बिलासपुर में जिला और सत्र न्यायालय, श्रम और औद्योगिक न्यायालय, रायपुर, मध्य प्रदेश हाईकोर्ट जबलपुर और छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट बिलासपुर में प्रैक्टिस की। उन्हें सितंबर 2014 में भारत के सहायक सॉलिसिटर जनरल के रूप में नियुक्त किया गया और सितंबर 2017 वे पद पर रहे। उन्हें 22 मार्च, 2021 को छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया।

जस्टिस चंद्रवंशी ने डॉ. हरि सिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर (म.प्र.) से कानून में डिग्री प्राप्त की और जुलाई 1990 में सिविल कोर्ट बिलासपुर में सिविल जज वर्ग- II के रूप में शामिल हुए। उन्होंने छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के अतिरिक्त रजिस्ट्रार (डीई) के रूप में कार्य किया और उसके बाद अंबिकापुर में जिला एवं सत्र न्यायाधीश, सरगुजा के रूप में नियुक्त हुए। उन्हें 22 मार्च, 2021 को छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया।

प्रस्ताव पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें




Next Story