Top
मुख्य सुर्खियां

वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे क्वीन्स काउंसेल नियुक्त

LiveLaw News Network
17 Jan 2020 2:48 AM GMT
वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे क्वीन्स काउंसेल नियुक्त
x

देश के जाने-माने वकील एवं भारत के पूर्व सॉलिसिटर जनरल हरीश साल्वे को 'इंग्लैंड एंड वेल्स'कोर्ट के लिए क्वीन्स काउंसेल (क्यूसी) नियुक्त किया गया है।

ब्रिटेन के न्याय मंत्रालय ने वरिष्ठ अधिवक्ता साल्वे को इस पद पर नियुक्त किया है।

क्वीन्स काउंसेल को 'सिल्क' अर्थात् सलाहकार भी कहा जाता है। यह प्रतिष्ठित पद वकालत पेशे में उत्कृष्ट कौशल प्रदर्शित करने और निपुणता दिखाने वाले वकीलों को ही प्रदान किया जाता है।

क्वीन्स काउंसेल की नियुक्ति लॉर्ड चांसलर की सलाह पर ब्रिटिश की महारानी करती हैं। इस पद के लिए प्राप्त प्रत्येक आवेदन पर स्वतंत्र चयन समिति द्वारा विचार किया जाता है, जो लॉर्ड चांसलर को नाम चयनित करके अवगत कराते हैं। उसके बाद लॉर्ड चांसलर ब्रिटिश महारानी को इनकी नियुक्तियों की सलाह देते हैं।

क्यूसी नियुक्ति योजना तत्कालीन संवैधानिक मामला विभाग के समर्थन से बार काउंसिल तथा लॉ सोसाइटी की ओर से विकसित की गयी थी, तथा नवम्बर 2004 में तत्कालीन लॉर्ड चांसलर एवं सेक्रेटरी ऑफ स्टेट (लॉर्ड फॉकनर) ने इसकी मंजूरी दी थी।

मंत्रालय की ओर से 16 जनवरी को जारी सूची के अनुसार कुल 114 नियुक्तियां की गयी है जिनमें 30 महिलाएं भी शामिल हैं। इन सभी की नियुक्तियां औपचारिक तौर पर 16 मार्च से प्रभावी होंगी।

हरीश साल्वे ने करीब सात साल पहले (2013 में) लंदन के प्रतिष्ठित ब्लैकस्टोन चैम्बर्स की सदस्यता हासिल की थी। ब्लैकस्टोन चैम्बर्स वाणिज्यिक, सार्वजनिक एवं नियोजन कानून में महारत हासिल किये वकीलों का समूह है।

हरीश साल्वे के बारे में

वर्ष 1956 में महाराष्ट्र के नागपुर शहर में जन्मे हरीश साल्वे भारत के प्रसिद्ध वकील हैं। वह 1999 से 2002 के बीच भारत के सॉलिसिटर जनरल भी रह चुके हैँ।

नागपुर विश्वविद्यालय से कानून की पढ़ाई करने वाले साल्वे ने 1980 में वकालत पेशे की शुरुआत जेबी दादाचंदजी एंड कंपनी के साथ की थी। वर्ष 1992 में उन्हें दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा सीनियर एडवोकेट मनोनीत किया गया था।

साल्वे पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव का मामला हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अदालत में भारत सरकार की ओर से लड़ चुके हैं।

विदित हो कि हरीश साल्वे क्वीन्स काउंसेल बनने वाले पहले भारतीय नहीं हैं, बल्कि पिछले वर्ष ह्वाइट एंड केस पार्टनर दीपेन सभरवाल को भी क्वीन्स काउंसेल नियुक्त किया जा चुका है।

Next Story