Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट: हाईकोर्ट ने पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के जिला कोर्ट में सुरक्षा व्यवस्था का विवरण मांगा

LiveLaw News Network
25 Dec 2021 7:33 AM GMT
लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट: हाईकोर्ट ने पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के जिला कोर्ट में सुरक्षा व्यवस्था का विवरण मांगा
x

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने पंजाब, हरियाणा और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में जगह-जगह कोर्ट कॉम्प्लेक्स सुरक्षा उपायों का विवरण मांगा है।

हाईकोर्ट ने इस संबंध में रजिस्ट्रार जनरल संजीव बेरी ने पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के सभी जिला और सत्र न्यायाधीशों को निम्नलिखित चार बिंदुओं पर एक पत्र लिखा है। यह पत्र लुधियाना कोर्ट परिसर में हुए विस्फोट के कुछ घंटों के भीतर भेजा गया।

पत्र में उल्लेखित बिंदु इस प्रकार हैं-

1. क्या न्यायिक न्यायालय परिसरों, अनुमंडल न्यायालय परिसरों, आवासों आदि में सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में जिले के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ नियमित बैठकें की जाती हैं? अगर कोई कमियां हो तो उनका समाधान कैसे किया जाता है?

2. क्या न्यायालय परिसर में सभी प्रवेशकों की तलाशी नियमित रूप से और हर समय की जाती है?

3. जिला न्यायालय परिसर एवं अनुमंडल न्यायालय परिसर या आपके सत्र संभाग में किसी अन्य स्थान पर सुरक्षा व्यवस्था में कोई कमी है या नहीं?

4. क्या अनुमंडल न्यायालय परिसरों में जिला न्यायालय परिसरों में सीसीटीवी कैमरे चालू हैं?

इसके अलावा रजिस्ट्रार जनरल ने न्यायालय परिसरों, आवासों आदि में सुरक्षा के प्रभावी रखरखाव के संबंध में भी न्यायाधीशों से सुझाव मांगे हैं।

भारत के मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमाना ने लुधियाना कोर्ट कॉम्प्लेक्स में हुए विस्फोट की घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

अदालत परिसरों में पर्याप्त सुरक्षा की कमी पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने आशा व्यक्त की कि कानून लागू करने वाली एजेंसियां ​​अदालत परिसरों और सभी हितधारकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक ध्यान देंगी। उन्होंने कहा कि देश भर में इस तरह की घटनाएं तेजी से हो रही हैं जो एक चिंताजनक प्रवृत्ति है।

सीजेआई रमाना ने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रविशंकर झा को फोन किया और घटनाक्रम की जानकारी ली।

सीजेआई रमाना ने भी मृतक के परिवार के शोक संतप्त सदस्यों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू, पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के न्यायाधीश और लुधियाना सत्र प्रभाग के निरीक्षण न्यायाधीश, जस्टिस ऑगस्टीन जॉर्ज मसीह ने भी विस्फोट के बाद लुधियाना अदालत परिसर का दौरा किया और परिस्थिति का जायजा लिया।

संबंधित समाचार में नौ दिसंबर को नई दिल्ली के रोहिणी में अदालत परिसर में एक मामूली विस्फोट हुआ था। दिल्ली पुलिस ने कहा कि विस्फोट एक लैपटॉप बैग में हुआ था।

घटना कोर्ट नंबर 102 में हुई। उस वक्त कोर्ट में कार्यवाही चल रही थी। विस्फोट के तुरंत बाद कार्यवाही रोक दी गई। विस्फोट में घायल हुए एक व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

डीसीपी प्रणव तायल के अनुसार, विस्फोट एक लैपटॉप बैग में हुआ, जबकि एक अदालत की कार्यवाही चल रही थी।

गौरतलब है कि रोहिणी के इसी कोर्ट परिसर में सितंबर में गैंगवार के तहत भीषण गोलीबारी हुई थी। इसमें चार गैंगस्टर मारे गए थे। इस घटना ने अदालत में सुरक्षा चूक को उजागर किया था, जिस पर दिल्ली हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया था।

Next Story