Top
Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

जस्टिस बीपी धर्माधिकारी की बॉम्बे हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति, पढ़ें अधिसूचना

LiveLaw News Network
18 March 2020 8:51 AM GMT
जस्टिस बीपी धर्माधिकारी की बॉम्बे हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति, पढ़ें अधिसूचना
x

केंद्र सरकार ने बॉम्बे हाईकोर्ट के जज जस्टिस भूषण प्रद्युम्न धर्माधिकारी की नियुक्ति इसी हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में की है। वे 27 अप्रैल को सेवानिवृत्त होने वाले हैं।

सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने 24 फरवरी को अपने प्रस्ताव में जस्टिस धर्माधिकारी को बॉम्बे हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाने की सिफारिश की थी।

वर्तमान में, न्यायमूर्ति धर्माधिकारी 23 फरवरी को मुख्य न्यायाधीश प्रदीप नंदराजोग की सेवानिवृत्ति के बाद से बॉम्बे उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य कर रहे हैं।

हाईकोर्ट की वेबसाइट के अनुसार, न्यायमूर्ति धर्माधिकारी ने नागपुर विश्वविद्यालय से कानून की डिग्री प्राप्त की, जिसे वर्तमान में राष्ट्र संत तुकोजी महाराज विश्वविद्यालय के रूप में जाना जाता है।

उन्होंने वर्ष 1980 में नागपुर में अपनी प्रैक्टिस शुरू की। बाद में वे कुछ समय के लिए जबलपुर में एडवोकेट वाईएस धर्माधिकारी के चैंबर में शामिल हुए और फिर वापस नागपुर आ गए और 1984 तक एडवोकेट एचएस घारे के साथ काम किया।

एडवोकेट घारे के सिटी सिविल जज बनने के बाद उन्होंने अपनी प्रैक्टिस शुरू की। वह सभी न्यायालयों में कई सरकारी निगमों, उद्योगों, नियोक्ताओं, यूनियनों के लिए लेबर कोर्ट, इंडस्ट्रियल कोर्ट, सिविल और क्रिमिनल कोर्ट, हाई कोर्ट, सेंट्रल और स्टेट एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल, को-ऑपरेटिव कोर्ट, रेवेन्यू अथॉरिटीज में पेश हुए।

न्यायमूर्ति धर्माधिकारी को 15 मार्च, 2004 को बॉम्बे उच्च न्यायालय के एक अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया और 12 मार्च, 2006 को स्थायी कर दिया गया।

अधिसूचना पढ़ें



Next Story