Top
Begin typing your search above and press return to search.
मुख्य सुर्खियां

'Bois Locker Room' : दिल्ली महिला आयोग ने लिया मामले का स्वतः संज्ञान; इंस्टाग्राम, दिल्ली पुलिस को कार्रवाई के लिए लिखा

LiveLaw News Network
5 May 2020 8:37 AM GMT
Bois Locker Room : दिल्ली महिला आयोग ने लिया मामले का स्वतः संज्ञान; इंस्टाग्राम, दिल्ली पुलिस को कार्रवाई के लिए लिखा
x

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने सोमवार को इंस्टाग्राम चैटग्रुप 'Bois Locker Room' में नाबालिग लड़कियों के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणियों के बारे में आयी रिपोर्ट का स्वतः संज्ञान लिया।

डीसीडब्ल्यू ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म इंस्टाग्राम पर 'Bois Locker Room' नामक चैटग्रुप में नाबालिग लड़कियों के बारे में की गई अभद्र और अश्लील टिप्पणियों के स्क्रीन शॉट के सार्वजनिक होने पर इस इंस्टाग्राम और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है।

डीसीडब्ल्यू ने इस ग्रुप में दिल्ली के स्कूली लड़कों के बीच हुई बातचीत का स्वतः संज्ञान लिया है। इस बातचीत से पता चला है कि कैसे ये लड़के ग्रुप में कम उम्र की लड़कियों के निजी फ़ोटो शेयर कर रहे थे और यहां तक कि इन नाबालिग लड़कियों का रेप तक करने की बात कर रहे थे।

डीसीडब्ल्यू ने कहा,

"रिपोर्ट के अनुसार इस ग्रुप का प्रयोग नाबालिग लड़कियों और युवतियों के आपत्तिजनक फ़ोटो और उनसे जुड़ी निजी सूचनाओं को शेयर करने के लिए हो रहा था। ऐसी रिपोर्ट है कि इस समूह में शामिल लड़कों ने महिलाओं को रेप करने की तकनीक और कम उम्र की लड़कियों के सामूहिक बलात्कार की चर्चा की।"

डीसीडब्ल्यू की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने मामले की गंभीरता की चर्चा करते हुए अपने पत्र में कहा है कि इस समूह के सैकड़ों सदस्य हैं और ये सदस्य खुले तौर पर इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई तरह की ग़ैरक़ानूनी गतिविधियों को अंजाम देते हैं।

उन्होंने लिखा है,

"आयोग को इस समूह के कई स्क्रीनशॉट्स मिले हैं जिसमें हैंडल के नाम और यूज़र के नाम स्पष्ट रूप से पढ़े जा सकते हैं। यह बहुत ही गंभीर मामला है क्योंकि एक ओपन मीडिया प्लेटफॉर्म का प्रयोग ग़ैरक़ानूनी गतिविधियों के लिए हो रहा है।"

मामले की गंभीरता को देखते हुए इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है और इंस्टाग्राम और दिल्ली साइबर पुलिस को इस बारे में 8 मई तक जवाब देने को कहा गया है।

ग्रुप एडमिन और इसके सदस्यों के बारे में विवरण मांगा गया है और यह भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इस बारे में क्या कार्रवाई कर रहा है।

रिपोर्ट के अनुसार इस ग्रुप को दक्षिण दिल्ली में रहनेवाले 16 से 18 साल के उम्र के लड़के चला रहे हैं और इसमें 13-14 साल तक के बच्चे शामिल हैं।

'Bois Locker Room' पर आरोप है कि इसमें कम उम्र की लड़कियों के नग्न और कांटछांट के बाद फ़ोटो और अश्लील बातें शेयर की गई हैं। महिलाओं विशेषकर कम उम्र की लड़कियों की सुरक्षा और उनकी निजता के बारे में इस घटना ने बड़ी चिंता पैदा कर दी है।

Next Story