Top
मुख्य सुर्खियां

भुज में छात्राओं के अंतर्वस्त्र की जांच के मामले में अब वकील ने भी की महिला आयोग में शिकायत, कड़ी कार्रवाई की मांग

LiveLaw News Network
20 Feb 2020 4:05 PM GMT
भुज में छात्राओं के अंतर्वस्त्र की  जांच के मामले में अब वकील ने भी की महिला आयोग में शिकायत, कड़ी कार्रवाई की मांग
x

गुजरात के भुज में एक गर्ल्स इंस्टिट्यूट के संचालकों ने छात्राओं को कपड़े उतरवाकर उनकी माहवारी की जांच की थी। यह मामला इतना बढ़ गया कि संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग होने लगी और राष्‍ट्रीय महिला आयोग ने मामले में स्‍‍‍‍‍वत: संज्ञान लेते हुए जांच टीम गठित कर दी। इस बीच दिल्ली के अधिवक्ता एहतेशाम हशमी ने भी महिला आयोग में इस मामले की शिकायत की और कड़ी कार्रवाई की मांग की।

मामला 12 फरवरी का है जिसमें गुजरात के कच्छ इलाके की एक गर्ल्स इंस्टिट्यूट की छात्राओं के अनुसार पीरियड्स के बारे में पूछताछ के बाद इंस्टिट्यूट संचालकों द्वारा छात्राओं को जांच के लिए वॉशरूम में ले जाया गया। इसके बाद छात्राओं ने अपना विरोध दर्ज करवाया और मामला महिला आयोग तक पहुंचा।

राष्ट्रीय महिला आयोग की सात सदस्यों की एक टीम ने भुज का दौरा किया और छात्राओं से उनकी शिकायत सुनी। इससे पहले वकील एहतेशाम हाशमी ने भी माहिला आयोग में मामला दर्ज करवाकर कड़ी कार्रवाई की मांग की।

हाशमी ने कहा कि हमारी अदालतों में पहले ही काफी मामले लंबित हैं और वे काम के बोझ से दबी हुई हैं, इसलिए हम सीधे कोर्ट न जाकर राष्ट्रीय महिला आयोग से इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग करते हैं। उन्होंने कहा कि यदि महिला आयोग ने भी मामले में आशानुरूप कदम न उठाए तो हम अदालत का दरवाज़ा खटखटाएंगे।

उन्होंने ने कहा की नारी अस्मिता की रक्षा करना प्रत्येक ज़िम्मेदार नागरिक का कर्तव्य है और इसके लिए हमें अगर सुप्रीम कोर्ट तक भी जाना पड़े तो हम इंसाफ के लिए वहां जाएंगे।

Next Story