Begin typing your search above and press return to search.
ताजा खबरें

"ट्र्स्ट ने हर साल वकीलों और क्लर्कों को फ्री मेडिकल बीमा उपलब्ध करवाया" : सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स ऑन रिकॉर्ड वेलफेयर ट्र्स्ट ने SCAORA के प्रस्ताव पर जवाब दिया

LiveLaw News Network
25 July 2021 10:32 AM GMT
ट्र्स्ट ने हर साल वकीलों और क्लर्कों को फ्री मेडिकल बीमा उपलब्ध करवाया : सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स ऑन रिकॉर्ड वेलफेयर ट्र्स्ट ने SCAORA के प्रस्ताव पर जवाब दिया
x

सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स ऑन रिकॉर्ड वेलफेयर ट्रस्ट ने सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स ऑन रिकॉर्ड एसोसिएशन (SCAORA) के हालिया प्रस्ताव पर प्रतिक्रिया दी है, जिसमें ट्रस्ट को अपने संचालन और गतिविधियों में SCAORA के पते के साथ SCAOR के नाम का उपयोग करने से रोकने का आह्वान किया गया है।

ट्रस्ट की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने कहा है कि ट्रस्ट ने अपने गठन के बाद से वरिष्ठ अधिवक्ताओं और अन्य लोगों से धन जुटाया है और वकीलों, क्लर्कों और उनके परिवारों को हर साल मुफ्त चिकित्सा बीमा दे रहा है।

लूथरा, जो ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी भी हैं, उन्होंने कहा कि यह ट्रस्ट 2020 से COVID 19 समय के दौरान और COVID 19 की दूसरी लहर के दौरान ट्रस्ट सदस्यों को ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था करने के अलावा, SCAORA द्वारा प्रदान की गई सूचियों के आधार पर वित्तीय सहायता प्रदान कर रहा है। इसके अलावा, एसोसिएशन के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सचिव अपनी स्थापना के बाद से ट्रस्ट के पदेन सदस्य रहे हैं।

लूथरा के अनुसार, जब SCAORA ने अलग होने की इच्छा व्यक्त की, तो ट्रस्ट ने अपने प्रस्ताव द्वारा SCAORA के नामांकित व्यक्तियों से एक प्रस्ताव पारित करने का अनुरोध किया था ताकि कानून के अनुसार ट्रस्ट डीड में एक उपयुक्त संशोधन किया जा सके।

लूथरा ने कहा,

"अब प्रस्ताव पास हो गया है कि ट्रस्ट पहले की तरह अपना काम जारी रखेगा और SCAORA के प्रस्ताव पर ट्रस्ट की अगली बैठक में विचार किया जाएगा।"

ट्रस्ट डीड पर आपत्ति खारिज कर दी गई

ट्रस्ट ने कहा कि कल्याणकारी योजनाओं को केवल एडवोकेट्स ऑन रिकॉर्ड तक सीमित रखने, एओआर के नाम का उपयोग नहीं किए जाने आदि जैसे मुद्दों को अतीत में उठाया गया है। हालांकि, 8 जुलाई 2017 को SCAORA में आयोजित आम सभा की बैठक में, ट्रस्ट डीड पर आपत्ति को भारी बहुमत से खारिज कर दिया गया था।

अधिवक्ताओं को चिकित्सा बीमा कवरेज दिया : ट्रस्ट

ट्रस्ट ने लाइव लॉ को सूचित किया है कि वह अधिवक्ताओं के लिए 5 लाख की राशि और वकीलों के क्लर्कों के लिए 1 लाख की राशि का चिकित्सा बीमा कवरेज प्रदान कर रहा है।

ट्रस्ट ने कहा,

"2019- 2020 में, 450 अधिवक्ताओं और उनके परिवारों को 300 क्लर्कों और उनके परिवारों के साथ कवर प्रदान किया गया है। 2020-2021 में, 422 अधिवक्ताओं और उनके परिवारों ने 200 क्लर्कों और उनके परिवारों के साथ कवर का लाभ उठाया।"

ट्रस्ट ने आगे कहा है कि बीमा कवरेज अधिवक्ताओं या क्लर्कों से कोई प्रीमियम लिए बिना प्रदान किया जाता है, और वर्ष 2019-2020 के लिए जीएसटी के साथ लगभग 85 लाख के प्रीमियम का भुगतान किया गया था और वर्ष 2020-2021 में लगभग 65 लाख के प्रीमियम का भुगतान किया गया था।

ट्रस्ट ने कहा, 'ट्रस्ट इस उद्देश्य के लिए कॉर्पस पर ब्याज और वरिष्ठ अधिवक्ताओं के द्वारा किए गए उदार दान का उपयोग करता है।

प्रीमियम और कवर किए गए बीमा का विवरण:

ट्रस्ट द्वारा प्रीमियम और कवर किए गए बीमा के संबंध में निम्नलिखित विवरण दिये हैं:

2014-2015 में 611 अधिवक्ता और 191 क्लर्को6 के लिए 15,09,3821 रुपये

2015-2016 : 1737 बीमा कवरेज के लिए 2667284 रुपए

2016-2017 : 2543 बीमा कवरेज के लिए 2361339 रुपए

2017-2018 : 2545 बीमा कवरेज के लिए 3813560 रुपए

2018-2019 : 2028 बीमा कवरेज के लिए 5617549 रुपए

यह ध्यान दिया जा सकता है कि ट्रस्ट की प्रतिक्रिया 18 जुलाई को SCAORA के प्रस्ताव पर आई है, जिसमें ट्रस्ट को अपने नाम पर SCAOR का उपयोग करने से रोकने के लिए कहा गया है। प्रस्ताव में कहा गया कि ट्रस्ट ने 'सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स-ऑन-रिकॉर्ड' शब्दों का उपयोग किया और SCAORAके पते के साथ इसके नाम से दान लिया।

SCAORA ने यह भी कहा था कि कार्यालय में SCAORA की निर्वाचित कार्यकारी समिति का ट्रस्ट द्वारा प्राप्त ट्रस्ट की संपत्ति पर कोई नियंत्रण या पहुंच नहीं है।

Next Story