Top
Begin typing your search above and press return to search.
ताजा खबरें

बॉम्बे हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस भीमराव एन नाइक का निधन

LiveLaw News Network
17 Sep 2019 3:29 AM GMT
बॉम्बे हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस भीमराव एन नाइक का निधन
x

बॉम्बे हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस भीमराव एन नाइक का आज 79 वर्ष की आयु में निधन हो गया। कर्नाटक में 23 जनवरी, 1940 को जन्मे नाइक ने पुणे विश्वविद्यालय से एलएलबी की डिग्री प्राप्त करने के बाद 16 अक्टूबर, 1964 को बार काउंसिल ऑफ महाराष्ट्र और गोवा में दाखिला लिया। उन्होंने जिला और सत्र न्यायालय, सोलापुर से अपनी प्रैक्टिस शुरू की और 1964 और 1969 के बीच दयानंद लॉ कॉलेज, सोलापुर में प्रोफेसर रहे। वे नवंबर, 1969 में बॉम्बे हाई कोर्ट में शिफ्ट हो गए।

बॉम्बे में उन्होंने लगभग 28 वर्षों तक आपराधिक और दीवानी दोनों मामलों में प्रैक्टिस की। रेंट एक्ट, सहकारी समितियों और संवैधानिक मामलों में उनकी मांग बहुत थी।

उन्हें बार काउंसिल ऑफ महाराष्ट्र और गोवा के सदस्य के रूप में चुना गया था और 1986 में सर्वसम्मति से वे यहां अध्यक्ष बने। 1989 में, उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट द्वारा एक वरिष्ठ अधिवक्ता के रूप में नामित किया गया था और उन्होंने महाराष्ट्र सरकार के लिए एक विशेष वकील के रूप में भी कार्य किया। वे सोलापुर, बरशी और मिरज के नगर निगम के लिए एक स्थायी वकील के रूप में काम करते रहे।

उन्हें 9 नवंबर, 1992 को बॉम्बे उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया था और दो साल बाद उन्हें स्थायी कर दिया गया था। हालांकि, इस तरह की नियुक्ति के तुरंत बाद, उन्होंने व्यक्तिगत कारणों से 7 जून, 1994 को उक्त पद से इस्तीफा दे दिया।

वे विथालपेंट तुलपुले गोल्ड मेडल फॉर प्रोफिसिएंसी इन लॉ, श्री एल बी भोपतकर पुरस्कार, विश्वनाथपर्वती कानून पुरस्कार, आदि सहित विभिन्न पुरस्कारों से सम्मानित हुए।

Next Story